ओ 4G वाली लड़की..

1
3358
4g service.airtel 4g,airtel 4g girl,

तुमको पता है….तुम्हारी अरहर कि दाल जैसी आँखों की कसम आज लौंडे तुम्हारे प्यार में टेलीनार का 2g हुए जा रहें हैं..आह!…इस ‘नव कंज लोचन कंज मुख’ की आभा  के आगे भक्तिकाल के सारे कवि रीतिकाल जैसा फील कर रहें हैं.तुम पता नहीं ग़ालिब की ग़ज़ल हो या खैय्याम की रुबाई, फैज़ की नज़्म हो या गुलज़ार के गीत…लेकिन तुम्हारे उलझे-उलझे बिखरे बिखरे बालों को देखकर मेरे मुहल्ले का मंटुआ कहता है की तुमने जरूर कोई मुस्कराने का   शार्ट टर्म  कोर्स किया हुआ है.तभी तो तुमको टीवी पर देखते ही लगता है कि देश दुनिया में कोई समस्या ही नही है…सब सही हो गया है …रुस ने आईएस को तबाह कर दिया है…सीरिया में दीपावली मन रही है….पाकिस्तान ने आईएसआई और लश्कर ए तैयबा के खिलाफ युद्ध शुरू कर दिया है..बराक ओबामा मोदी जी के सर में हिमगंगे तेल लगा रहे हैं….सेंसेक्स भी ठीक ठाक है.

महंगाई की नानी मर गयी है.दाल 10 रुपया में 5 किलो मिल रही है…बीस रुपया में 5GB 3Gडाटा तुम्हारा एयरटेल दे रहा है…राहुल गांधी के  बुद्धि का विकास अपने उच्चतम स्तर से आगे बढ़ गया है..धरती पुत्र मन से मुलायम सिंग और राष्ट्र माता सोनिया गांधी जी के भाषण को कोई भी आसानी से समझ  सकता है.मनमोहन सिंग भी अब पंचम स्वर में बोलने लगे हैं.राष्ट्रिय जीजा सीरी वाड्रा जी के खेतो में पुदीने की फसल लहलहा रही है.बहुत क्रांतिकारी वाले अपने केजरीवाल  सर अब रोज रात को एक फ़िल्म देखकर awesome awesome का ट्वीट करने लगें हैं.रेप सिंगर सीरी हनी सिंग अब ध्रुपद सिखने में तल्लीन हो गये हैं.मल्लब लगता है कि  देश दुनिया की सारी समस्याएं तुम्हारे इस हसीन  4G की स्पीड से  ठीक ठाक हो गयीं हैं.तुम जानती हो ये इश्क का असर है पगली…सब इश्क में पागल हुए जा रहें हैं.

एक जमाने में 1G वाला  इश्क था .”कबूतर जा जा” वाला गाना सुनकर दीवाना  चिट्ठी लिखता था अपनी महबूबा को और जबाब आते आते महबूबा के हाथ पीले और महबूब के नेत्र गीले हो जाते थे.फिर जमाना बदला.. 2Gइश्क आया..मने भइया के बियाह में घाघरा वाली साली को देखकर किसी देवर का दिल तीव्र लय में धड़का “भइया की सालियों” वाले गाने पर नाचते हुए फोन नम्बर का जुगाड़ कर रहे   लौंडे की ठुकाई भी हो गयी…बाद में लड़की ने  दुपट्टा ठीक करते हुए जबाब दे दिया.”मैं उसमें की नहीं हूँ”ओह..लौंडा बेचारा बीएसएनएल के लैंडलाइन जैसा मुंह बनाकर पढ़ाई से मित्रता कर लिया और आगे चलकर उत्तर प्रदेश में शिक्षा मित्र बना।

जमाना फास्ट हुआ अब 3G इश्क अपने चरम पर है…इस इश्क में सामने वाली हर लड़की  हर लड़के को महबूबा ही नज़र आती है.अपनी तीसरी गर्लफ्रेंड के चौथे ब्वायफ़्रेंड लौंडे “ये पार्टी यूँ ही चलेगी” और “ब्रेक अप की पार्टी कर ली” जैसे गाने के साथ महबूबा से रोज रोज इश्क और रोज रोज ब्रेकअप  करते हैं…

अब जबकि तुम 4G service लेकर आ गयी हो तो सुन लो..अब उसी स्पीड से इश्क डाउनलोड होगा और रोज डिलीट होगा.लेकिन अपने इस 4G service से पहले उन दिवानों का जरा ख्याल तो करो….जिनके सपने में तुम रोज आकर चली जाती हो…..वो आजकल हनुमान चालीसा का पाठ करना छोड़ “कुण्डी मत खड़कावो राजा सीधा अंदर आवो राजा” की सन्दर्भ सहित व्याख्या करने लगें हैं.उन कुंवारों का हाल ए दिल तुम क्या जानो जो सोचते हैं काश कोई तुम्हारी तरह 4G गर्लफ्रेंड होती।

अरे तुम्हें तुम्हारे सुनील भारती की कसम जरा एयरटेल को समझावो.ये दीवाने आज भी महबूबा की तलाश में बाबूजी के जेब से 2G चलाते हैं…ये 4G service इनके लिए तुम्हारी तरह ही सपना है.महबूबा ऑनलाइन आती है तो इनके नेट की स्पीड इन्हें ऑफ़लाइन कर देती है…फिर चार दिन महबूबा से  लैंडलाइन झगड़ा चलता है.

जिन लौंडों ने अपनी दुल्हन खोजने के लिए ही फेसबुक अकाउंट बना रखा है.उनका तो ख्याल करो…बेचारे सतहत्तर किसिम का मुंह बनाकर सेल्फ़ी लेतें हैं और अपलोड होने में ही सताइस मिनट लग जातें हैं.साठ साल वाले दादा जी  तीस साला अपनी महिला मित्र के रूप लावण्य का इनबाक्सीय बखान कर ही रहे होतें हैं तब तक उनका टावर जबाब दे जाता है.

दुःख की इंतेहा नहीं है…ये मीठे मीठे महंगे सपने दिखाकर भोले भाले लौंडो को भरमाना बन्द करो….अगर तुम्हारा 2G सही नहीं हुआ तो तुम्हारा 4G service वापस।
image

Comments

comments