Monday, April 19, 2021
Home जीवन संगीत

जीवन संगीत

एक जगह कहते हैं कि जीवन में अगर कुछ बचाने लायक है तो वो है जीवन संगीत यानी जीवन संगीत जो ये बचा लेता है सब बचा लेता है जो ये खो देता है सब खो देता है..संगीत को सिर्फ मनोरंजन समझना मनुष्य की की गयी सबसे बड़ी गलतियों में से एक है..यहाँ हम आपको बताएंगे की ये जीवन संगीत कैसे एक दूसरे से परस्पर जुड़े हुए हैं..आपका जीवन  संगीत पेज पर स्वागत है

एक पटाखा विमर्श…

ये मौसम बदलने का मौसम है। एक झटके में सुबह की नर्म हवा दोपहर की गर्म हवा में इस तरह बदल जाती है,मानों समूचे...

मैं नए जमाने का पुराना आदमी हूँ…

घर के किसी कोने में फेंके हुए हल,जुआठ,खुरपी,हंसुआ देखकर आज भी कदम ठिठक से जाते हैं। हल की मूठ से अपने पुरखों की स्मृतियों...

बचपन का पन्द्रह अगस्त ( अहा ! ज़िन्दगी के अगस्त अंक में प्रकाशित )

ग्राम रघुनाथपुर का उत्तरी बाजार। इस जगह को बाज़ार होने की योग्यता बस इसलिए मिल गई क्योंकि पिछले साल बाढ़ के समय सरकार ने...
bol bum song

अश्लीलता के टेम्पो पर सवार भोजपुरी

शादी-ब्याह के दिन में शगुन उठ रहा हो या घर में कोई शुभ कार्य हो रहा है..जैसे ही घर की बुढ़िया माई अपना आँचल...

जीवन में बचाने लायक क्या है ?

एक मित्र बड़े परेशान रहते थे कि नौकरी नहीं है और जिम्मेदारी चक्रवृद्धि ब्याज की तरह बढ़ रही है। बाल पक गए,शादी न हुई,घर...
bhojpuri film,bhojpuri movie,

भोजपुरी का नया सिनेमा- इन पांच शार्ट फिल्मों को नहीं देखा तो क्या देखा...

रोज सैकड़ों अश्लील एलबम, हजारों अश्लील गीत, भोजपुरी में भोजपुरी को छोड़कर सब कुछ दिखातीं दर्जनों फिल्में। मस्तराम के मामा को मात देने को बेताब...
traditional village holi

गाँव-जवार का फगुआ गान (अहा ! ज़िंदगी के मार्च अंक में प्रकाशित )

गांव के ताल-पोखरा हो या अमराई,महुवा के चिकनाते पत्ते हों या बंसवार में फूटते कोंपल.काली माई का दुआर हो या लाई-दाना भूजने वाली घोसार.गांव...
dhrupad mela varanasi

ध्रुपद मेला : जिनगी के झमेला में आनंद का मेला

जिनगी वो मेला है,जिसमें आखिरी सांस तक झमेला है.इस मेले में उदासियों के समियाने खड़े हैं,तो कहीं नांचती चरखी पर बैठे फलानें। जरा सा...

लोक में अश्लीलता बनाम भोजपुरी की अश्लीलता

जैसे ही गाँव में इकलौते साले जी का आगमन होता है.गाँव के रोम-रोम में जीजत्व की भावना संचरण करने लगती है.वो साला उर्फ सार...

पियवा से पहिले हमार रहलू ( सन्दर्भ सहित व्याख्या )

प्रश्न - भोजपुरी के लोकप्रिय गीत 'पियवा से पहिले हमार रहलू' की सन्दर्भ सहित व्याख्या करें। अथवा "रात दिया बुता के पिया क्या-क्या किया" की सारगर्भित...

सर्वाधिक लोकप्रिय

varanasi news,ustad bismillah khan shahnai,banaras samachar

उस्ताद..आज आपके साथ थोड़ा बनारस भी बिक गया

सादर प्रणाम   उम्मीद है आप जहाँ भी होंगे सकुशल होंगे..देखिये न आज आपके बनारस में सूरज दिल खोलकर निकला है,हवा पंख खोलकर बह रही...
mantua pinkiya, , love letter,valentaine day

मंटूआ-पिंकीया की असली प्रेम कहानी

मौसम में हल्की नमी थी और हवा में बंसत की सुवास.आसमान में देखते ही मन उड़ने लगता था.मानों वो चिल्ला-चिल्ला के कह रहा हो."अब...
insurance,dil ka insurance,health

बी.टेक्स वाले दुल्हनिया ले जाएंगे ?

आज छत पर धूप पसरी  है.अखबार लेकर बैठा हूँ.आसमाँ भी साफ़ है.पक्षी भी उड़ रहे..नावें भी ठीक से चल रहीं.लेकिन कमबख्त मेरा दिल बैठा...
comrade ,jnu story in hindi,comrade katha

कामरेड कथा..लव,सेक्स और क्रान्ति

अभी पुष्पा को कालेज आये चार ही दिन हुए थे कि उसकी मुलाक़ात एक क्रांतिकारी से हो गयी.लम्बी कद का एक सांवला सा लौंडा.ब्रांडेड...
diploma

डिप्लोमा इन दुनियादारी 

गाँव के स्कूल में एक मास्टर साहेब थे.नाम था तिरलोचन तिवारी उर्फ़ मरखहवा मास्टर.ज्ञान को हमेशा कपार पर उठाये रहते थे.माघ के जाड़े में...